MENU X

भारतीय कारीगरों और दस्तकारों के द्वारा बनाये गए डिजाइन और मूल रगों के मिश्रण से बनाई गई रज़ाई बोल्ड डिजाइन, कार्टूनवाली चिकनकारी वाली रज़ाइयों को देख कर राजस्थानी संस्कृति की झलक मिलती है यहां पर कारीगर आगे बढ़ने के लिए मेहनत करते है।

जयपुर में इसके अलावा विशाल किलों, खूबसूरत महलों के लिए मशहूर होने के साथ-साथ गुलाबी शहर में आपको स्वादिष्ट भोजन, शानदार गहने और रज़ाई के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर वास्तव में दुनिया भर के लोग इस गर्म कम्बल, जिसको हिंदी में रज़ाई कहते है यह बहुत आराम से ओढ़ी जाती है और बहुत गर्म रहती है।

ये रजाइया यूरोप, मध्य और दक्षिण अमेरिका जैसे कई स्थानों पर बहुत ही लोकप्रिय है। अतीत में , शिल्पकारों और कारीगरों के द्वारा लोकप्रिय जयपुरी रजाइया पारंपरिक श्रम गहन तकनीक का उपयोग कर बहुत ही मेहनत से इनका निर्माण किया जाता था। जयपुर की रजाइया अपने ग्राहकों का ध्यान आकर्षित  करने में कभी पीछे नही रहती है और कई अलग-अलग प्रकार की रज़ाइयों यहां पर मिलती है।

1. हाथ ब्लॉक मुद्रित रजाई

यह रज़ाइयां सच में अपनी कोमलता, चिकनी बनावट, सुंदर डिजाइन और रंग की चमकदार रंगों की वजह से भारी आकर्षण रखती है। ये रज़ाइयां इतनी सूंदर होती है कि ग्राहकों को आकर्षित करती है और फिर वो नियमित ग्राहक बन जाते है और फिर रज़ाई एक ही जगह से खरीदते है।

यह कैसे बनी है?

कारीगर कपास कंधी से सिल्की कपड़ा, बारीक़ कपड़ा, सूती कपड़ा सहित पारंपरिक वस्त्र बनाने के कौशल का उपयोग करते है। कपड़े में कपास कंधी को भरकर कम्बल को तैयार किया जाता है। जयपुर की रज़ाई का निर्माण करने में रज़ाई में कपास को भरा जाता है और फिर उसकी सिलाई हाथ से की जाती है इसके बाद ही ये कम्बल हल्का और गर्म बनता है।

2. प्रतिवर्ती जयपुरी रजाई

यह भी जयपुरी रज़ाइयों का एक अच्छा विकल्प है इसको  'प्रतिवर्ती' रज़ाई कहते है। यह वास्तव में ग्राहकों को उकसाती है  इसे खरीदने के लिए दूर-दूर से आते है आप इस रजाई को दोनों तरफ से काम में ले सकते हो। आपको दोनों तरफ अलग-अलग डिजाइन देखने को भी मिलेगी इसकी बनावट और पैटर्न इतना अच्छा होता है कि आपको ठण्डक का अहसास नहीं होता है।

3. जीवंत रूपांकन रजाइयां

जयपुर की रजाइयां बहुत सारे डिजाइनरों द्वारा अलग-अलग डिजाइन में बनाई होती है ये देखने में बहुत ही आकर्षित लगता है। कुछ रजाइयों पर खूबसूरत कढाई बनी होती है किसी रजाइयो पर ब्लाक प्रिंट बने होते है। रजाइयों की हर डिजाइन एक नई कहानी कहता है और लोगो को विभिन्न प्रकार की रजाइयां अपनी तरफ आकर्षित करती है। जयपुर में हर पैटर्न की रजाई आपको आसानी से मिल जाएगी।

4. जयपुरी प्रिंट रजाई

यह रजाइयां निस्संदेह जयपुरी प्रिंट की बहुत ही सुंदर और शानदार होती है। ये जयपुरी प्रिंट पुष्प अंक, पशु प्रिंट, विशेष रूप से हाथी प्रिंट, पत्ती पैटर्न, वन विषयगत प्रिंट और बहुत से और प्रिंट होते है जो सभी लोगो को अपनी और आकर्षित करती है आपको देख कर घर ले जाने का मन करेगा। यह जयपुरी प्रिंट रजाई बहुत आरामदायक है और इसके खूबसूरत पैटर्न और शानदार सुंदरता के लिए जाने जाती है।

5. सांगानेरी प्रिंट रजाई

सांगानेरी प्रिंट एक अलबेला पैटर्न है यह भी लोगो के द्वारा बहुत पसन्द की जाती है। ये बहुत गर्म रहती है और बहुत आराम दायक होती है। वे भी ग्राहकों को बहुत आकर्षित करती हैं।

6. राजस्थानी रजाई

रजाई शब्द एक राजस्थानी नाम है वैसे रजाइयों को कम्बल बोला जाता है। यह बहुत ही मजबूत होती है ये रेगिस्तानी राज्य की बहुत शानदार और अलग-अलग रगों की बनी रजाइयां है जो प्रकास में अलग सेड में  दिखती है।

7. जयपुर मुगल प्रिंट रजाई

नाम से ही पता चलता है कि जयपुरी रजाई अपनी मुगल प्रिंट के लिए जानी जाती है। यह शाही रजाई और जयपुर में पाया जाने वाले कम्बलो में से एक है। आपको यह आसानी से त्रिपोलिया बाजार, जौहरी बाजार और अन्य शहर के बाजारों में दुकानों पर मिल जाएगी लेकिन आपको इसके लिए दुकानों पर लाइन लगा कर खड़ा होना पड़ता है। ये रजाई इतनी सूंदर होती है कि ग्राहकों को अपनी और आकर्षित करती है लोग इसको देख कर मोहित हो जाते है और इसको खरीद लेते है।

8. शीतल उभरा कंबल

इसके नाम से ही पता चलता है कि यह कम्बल बहुत ही कोमल, चिकना, और मुलायम होता है जिसे ओढ़ कर आपको बहुत अच्छी नीद आएगी। आपको नीद में इसे ओड़ने से एक अलग ही अहसास होगा। यह बहुत चिकनी और सुखदायक होती है। इसकी बनावट भी बहुत अच्छी होती है।

9. सुपर कूल कंबल

यह रजाई उन सब रजाइयों से बहुत गर्म है। क्योकि ऊनी वस्त्र तो हम सर्दियों के मौसम में काम में लेते है इस रजाई में भी ऊन का प्रयोग किया जाता है इसलिए यह सर्दियों के लिए बहुत अच्छी है। इसके अलावा इसकी बनावट भी बहुत अच्छी है ऊन से भरी होने के कारण यह चिकनी है।

जयपुर में कुछ दुकाने है जहां पर रजाइयां ही मिलती है जैसे :

1. मिया बजाज जयपुर रजाई एम्पोरियम, दुकान नं 55, हवा महल बाजार, हवा महल, जयपुर, राजस्थान - 302002

2. जयपुरी रजाई, सी 3/230, राधा कृष्ण मार्ग, चित्रकूट स्कीम, जयपुर, राजस्थान - 302021

3. लक्ष्मी कपड़ा, दुकान-68, ऑप। जैन मंदिर, एसएमएस राजमार्ग, चौड़ा रास्ता, जयपुर, राजस्थान - 302003

जयपुर में ग्राहकों को सन्तुष्ट करने के लिए रजाइयों की अपार सम्भावनाये है। यह वास्तव में विदेशी देशों और हर जगह के स्थानीय लोगो और घरेलू यात्रियों के साथ-साथ सब को आकर्षित करती है। यह आपके घर की साज सजा के लिए  भी है आपके घर में आपके कमरे के रंग और पैटर्न के हिसाब से आप रजाई खरीद सकते है। यह बहुत ही सुखदायक होती है पर इनमे छिपी इंटीरियर डिजाइन सब को आकर्षित करती है।

 


You May Also Like

This Thursday, August 25, 2016 will witness grand Krishna Janmashtami celebrations at Govind Devji temple in the city area of Jaipur.

Lalit Kala Academy of Jaipur is all set to initiate its exhibition van that will display the art of Jaipur and promote the artists of the pink city.

Heavy rains lead to the death of 7 in the state of Rajasthan. Army had to be called to carry out rescue operations and to retrieve bodies.

Jaipur’s popular mosque Jama Masjid is all set to open its doors for women to offer namaz.

Vaishali Nagar Jaipur the star skating player was selected for international completion at Thailand.