MENU X

खरीदारी

जयपुर में खरीदारी के लिए लोग परकोटे में स्थित बाज़ारों को खूब पसंद करते हैँ। इसी के साथ जयपुर में कई शानदार मॉल का निर्माण हुआ है जिनमे स्वदेशी व अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के शोरूम हैं, जहाँ से आप खरीदारी कर सकते हैं।
आप जयपुर की गलियो में घूमकर देखेगे कि स्थानीय कारीगर कैसे रहते है आप इनकी कला को देखेगे तो आपको असली कारीगरों के बारे में पता चलेगा।
यहां पर शहर में सबसे अच्छे लक्जरी जीवन शैली की दुकाने है जहां पर शाही सामान बहुत अच्छे कीमत पर खरीद सकते है
जयपुर में सबसे प्रमुख हाथ से बने आसनों को दुनियॉ भर के लोग लेते है क्योकि ये बहुत सूंदर बनाये जाते है।
जयपुर प्रतिभा का एक पूल है। इन स्थानीय आने वाले गणेश चतुर्थी सप्ताह के लिए जयपुर में आश्चर्यजनक गणेश मूर्ति बनाते कारीगरों को देखो!
जैसे बस अपने विशाल किलों, भव्य महलों, स्वादिष्ट फ़ूड और अच्छे गहने की तरह, जयपुरी रज़ाई भी लोगों के बीच काफी मशहूर है।
सांगानेरी गेट और बड़ी चौपड़ के बिच मे स्थित हे और इस जगह का एक शानदार विकल्प है
बापू बाजार जयपुर का सबसे पुराना और सबसे अच्छा बाजारों में से एक है।
त्रिपोलिया गेट और नई फाटक के बीच में स्थित है यह बाजार जौहरी बाजार के जैसे ही चलता है।
सिटी पैलेस और छोटी चौपड़ के करीब स्थित है
पुरोहित जी का कतला जयपुर में एक प्रसिद्ध बाजार में से एक है जो जयपुर के बाजारों में एक महान स्थान रखता है।
चांदपोल मसालों, संगमरमर की मूर्तियां, दालों और किराने की वस्तुओं की खरीदारी आदि एक बड़ी विविधता के लिए ये बाजार प्रसिद्ध है।
जयपुर के जीवंत और आकर्षक हस्तशिल्प के साथ घर सजाना
राजस्थान के प्रमुख उत्पादों मे एक ब्लू पॉटरी भी है
जयपुर शहर कपड़े के व्यवसाय में बहुत लोकप्रिय है, जैसे रेशम कला, जॉरजट और जरी, जरदोजी, धागा और रेशम कढ़ाई का काम यहां का प्रसिद्ध कार्य है इसके अलावा भी यहां पर अन्य कपड़े भी बहुत अधिकता में तैयार किये जाते है।
गुलाबी शहर में लगभग हर कलात्मक सामान मिल जायेगा जो ज्यादातर यहां पर ही तैयार हुआ होता है।
जयपुर के मुख्य दीवारों शहर क्षेत्र में तरह - तरह के आभूषणों की खरीदारी, जयपुर प्रिंट, जयपुर जूटिज, आदि के रूप में विभिन्न प्रयोजनों के लिए कई जीवंत बाजार (खरीदारी क्षेत्रों) जयपुर में उपलब्ध है

Historical Jaipur

Explore historic Jaipur through the ages, from royal land of rajput kings to the British colonial age.