MENU X
थानों और कंट्रोल रूम में भीड़ की जरूरत नहीं  - राजकॉप सिटीजन ऐप से बनवा सकेंगे लॉकडाउन व्हीकल पास


राजस्थान पुलिस के राजकॉप सिटीजन ऐप से अब शहर और शहर के बाहर जाने के लिए पास बनवा सकेंगे । फिलहाल यह सुविधा ऑफलाइन है और पास अजमेरी गेट स्थित पुलिस कंट्रोल रूम और थानों में बनाए जा रहे हैं । भीड़ कम करने के लिए पुलिस की ओर से यह कवायद की गई है । इसके लिए आवेदक को एसएसओ आईडी से राजकॉप सिटीजन एप पर लॉगइन करना होगा । जहां पास का ऑप्शन दिखाई देगा । लॉकडाउन पास पर क्लिक करने से ' पास रिक्वेस्ट का आवेदन खुलेगा । इसमें नाम , उम्र , मोबाइल नंबर , जिला , थाना , प्रोफेशन , मार्ग, वाहन संख्या, यात्रा के लिए कारण भरना होगा।

 - जनता की सुविधा के लिए यह कवायद की गई है आने वाले दिनों में ऐप में लगातार इम्पूवमेंट होते रहेंगे ।
 अफ़सर ( एससीआरबी )

पुलिस अधिकारियों तक पहुंचेगा आवेदनः आवेदन के सभी विकल्प भरनेऔर सब्मिटकरने केबादपुलिस अधिकारियों तक आवेदन पहुंच जाएगा । जहां अधिकारी इस बात की जांच करेंगे कि आवेदक को वाकई पास मिलनाचाहिए या नहीं । हो सकता है अधिकारी आवेदक को फोन भी करें । सभी जांच पड़ताल पूरी होने के बाद आवेदक को मेल पर लॉकडाउन पास प्राप्त हो जाएगा । पुलिस की ओर से यह साफ किया गया है किये पास सिर्फ आपातकालीन और बहुत जरूरी होने पर बनाया जायेगा!

लॉगिन के बाद आमजन व व्यावसायिक फर्म द्वारा उचित कारणों के साथ आवेदन किया जा सकता है। जिस पर संबंधित जिला प्रशासन / पुलिस / अन्य सक्षम अधिकारी द्वारा विचार किया जाकर आवश्यकतानुसार ऑनलाईन डिजीटल पास जारी होकर संबंधित आवेदक की ई-मेल आईडी पर प्राप्त हो सकेगा। इस लिंक (https://sso.rajasthan.gov.in/register>) पर क्लिक कर SSO ID बनाई जा सकेगी। 


You May Also Like

Though Diwali is very closely associated to bursting of firecrackers, they cause more harm than the excitement they bring. #SayNoToFirecrackers

Under The Method Acting many artists are shedding and putting on weights for their characters while many artists are going Bald for their characters.

Suvigya Sharma paintings are very much in demand these days. Recently, none other than Bollywood actor Sanjay Dutt purchased Jaipur based artist Suvigya Sharma's Ganpati painting at a Fund Raiser Art Exhibition in Mumbai on June 11.

They quarrel over trivial matters and they fight with one another, sometimes with pillows and other times with fists too.

‘Mother’s Day’, which usually falls on the 2nd Sunday of May, is right around the corner. Mostly all kids have already selected gifts for their lovely mothers.