MENU X


गणगौर के त्यौहार को लेकर उत्साह चरम सीमा पर है। और क्यों ना हो? आखिर गणगौर जयपुर वासियों के सबसे पसंदीदा त्योहारों में से एक है। 15 दिन तक पूजन के बाद आज, 30 मार्च 2017 को जयपुर में गणगौर की सवारी निकाली जाएगी।

गणगौर की सवारी

प्रत्येक वर्ष की तरह ही सिटी पैलेस के जनानी ड्योढ़ी से रवाना होकर त्रिपोलिया गेट से लवाजमें के साथ गणगौर की सवारी निकलेगी। गणगौर की सवारी 30 और 31 मार्च, दोनों दिन शाम 6 बजे धूम-धाम से निकलेगी। जनानी ड्योढ़ी सिटी पैलेस से निकलकर, त्रिपोलिया बाजार, छोटी चौपड़, और गणगौरी बाजार होते हुए पोंड्रिक पार्क पहुँचेगी।

पर तालकटोरा माँ गौरा के लिए तैयार नहीं

माँ गौरा हर साल धूम-धाम से तालकटोरा पहुँचती है। यहाँ श्रद्धालु उन्हें घेवर का भोग लगाते हैं। और तब रस्म में तालकटोरे का ही पानी काम में लिया जाता है। लेकिन इस बार ऐसा लगता है कि जयपुर नगर निगम शायद यह भूल गया।

जयपुर के तालकटोरे की दशा इतनी ख़राब है कि मानो नगर निगम को एहसास ही ना हो कि माँ गौरा यहाँ पधारेंगी। इस वर्ष तालकटोरे की दशा देखते हुए नही लगता कि ऐसा किया जा सकेगा। देखिये तालकटोरे की दशा बयान करती हुई यह तस्वीर।

आइये इस तस्वीर को इतना फैलाए कि जयपुर नगर निगम ध्यान दे। #RaiseYourVoice

 


You May Also Like

Asiatic lioness Tejika gives birth to 3 cubs in Nahargarh Biological Park, Jaipur; the first time this has happened in the last 29 years.

Jaipur Airport’s Director BK Tailang is going to grace the World Routes 2016 event in China to represent the 125 airports of India.

In the first State Level Grappling Match, the team from Jaipur showed a lot of clout.

Over 700 pilgrims from Rajasthan are stranded in various parts of Kashmir due to violent protests and curfew in the valley. 600 pilgrims are from Alwar alone.

Ms. Meena was welcomed in Panchyawala by Mr. Hiranand Kataria and other nearby residents of the area.